फारूक अब्दुल्लाह को मिली रिहाई, आजाद होकर दिया ये बयान

फारूक अब्दुल्लाह को मिली रिहाई, आजाद होकर दिया ये बयान

05 अगस्त 2019 को जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा वापस ले लिया गया था. जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री को पीएसए क़ानून के तहत हिरासत में लिया गया था.
लगभग छह महीने बाद फारूक अब्दुल्लाह को रिहाई मिली.  रिहा होकर फारूक अब्दुल्लाह ने चैन की सांस ली.  छह महीने बाद आजाद हुए फारूक अब्दुला ने कहा – ‘ मेरे पास कहने को शब्द नहीं हैं.  आज मैं आजाद हुँ. अगर मुझे अनुमति मिली तो मैं संसद जाऊंगा और आवाम की आवाज़ को संसद में सबके सामने रखूँगा. 
आगे फारूक अब्दुल्लाह बोलते हैं कि मैं उन सांसदों का भी धन्यवाद करता हुँ जो मेरे रिहाई के लिए लड़े. बता दे कि पीएसए क़ानून के तहत अभी और भी नेता जम्मू कश्मीर में हिरासत में हैं.
डॉ अब्दुल्लाह आगे बोलते हैं कि अन्य लोगों को भी रिहा करना चाहिए.  यह आजादी तब तक पूरी नहीं हैं जब तक हमारे सारे नेता आजाद नहीं होते. मुझे उम्मीद है कि भारत सरकार सभी लोगों को रिहा करने के लिए कार्रवाई करेगी. सरकार द्वारा जारी आदेश में लिखा है की फारूक अब्दुल्लाह पर पीएसए एक्ट तीन महीनों के लिए यानी दिसंबर तक लगा था. इसके बाद में तीन महीने और बढ़ा दिया गया.  अब मार्च में वह अवधि पूरी हो रही है ऐसे में फारूक अब्दुल्लाह जल्द रिहा होंगे. 
नेशनल कांफ्रेंस ने बयान जारी कर कहा है की,  नेकां संरक्षक फारूक अब्दुल्लाह को हिरासत से रिहा किया जाना ‘जम्मू कश्मीर में वास्तविक राजनितिक प्रक्रिया को बहाल करने की सही दिशा में लिया गया कदम है ‘.
Latest Hindi News से हमेशा अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक, ट्विटर पर फॉलो करें एवं Google News पर फॉलो करे .
Advertisements

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*