सुदूरवर्ती इलाकों के सड़क निर्माण में फॉरेस्ट की भूमि क्लियरेंस के लिए डीएम ने अधिकारियों संग स्थल निरीक्षण किया

रजौली प्रखंड के सुदूरवर्ती क्षेत्र में प्रधानमंत्री ग्रामीण योजना के तहत बनने वाली सड़क मार्ग में फॉरेस्ट की भूमि क्लियरेंस के लिए डीएम ने बुधवार को अधिकारियों संग स्थल निरीक्षण किया।
निरीक्षण मौके पर डीएम कौशल कुमार के डीएफओ अवधेश कुमार झा, एएसपी अभियान कुुमार आलोक के संग एसडीओ चंद्रशेखर आजाद, सीओ संजय कुमार झा एवं वनों के क्षेत्रीय पदाधिकारी विवेकानंद स्वामी उपस्थित थे।डीएम ने सबसे पहले धमनी से सवैयाटांड पंचायत के लिए बनने वाली सड़क मार्ग का स्थल जांच करने के लिए बुढ़िया साख के जंगल पहुंचे।हालांकि सवैयाटांड जाना इस रास्त
से मुश्किल थी।इस लिए जांच टीम वापस हरदिया पंचायत के फुलवरिया जलाशय के समीप से भानेखाप एवं चोरडीहा जाने वाली सड़क निर्माण स्थल की जांच करते हुए। कोडरमा होते हुए सवैयाटांड पंचायत के चटकरी गांव के समीप धमनी से सवैयाटांड जोड़ने वाली सड़क निर्माण स्थल का निरीक्षण किया।सड़क मार्ग निर्माण स्थल निरीक्षण के दौरान डीएम ने कहा कि सुदूरवर्ती क्षेत्रों के लिए तीन रोड सवैयाटांड, भानेखाप, चोरडीहा को मुख्यालय से जोड़ने वाली का निर्माण करने के लिए आदेश पारित हो गया है।लेकिन इन सड़कों के निर्माण में फॉरेस्ट की जमीन पड़ती है। जिसके क्लियरेंस के लिए स्थल निरीक्षण किया गया है।सड़क मार्ग में फॉरेस्ट की जमीन पड़ने के कारण फॉरेस्ट कंजर्वेशन एक्ट के तहत वन विभाग को जमीन के अधिग्रहण कर देना पड़ेगा। ताकि सड़क निर्माण में किसी भी तरह का अवरोध उत्पन्न न हो।फॉरेस्ट कंजर्वेशन एक्ट के तहत भानेखाप सड़क मार्ग के लिए साढ़े सात एकड़ भूमि एवं चोरडीहा सड़क मार्ग के लिए 17 एकड़ भूमि फॉरेस्ट ट्रांसफर करना पड़ेगा। जिसके बाद फॉरेस्ट से क्लियरेंस मिल जायेगा और सड़क का निर्माण कराया जायेगा।उन्होंने कहा कि धमनी से सवैयाटांड़ पंचायत को जोड़ने वाली रोड प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क निर्माण में किसी प्रकार की अवरोध ज्यादा नहीं है। उन्होंने कहा कि धमनी से सांवरिया चार्ट सड़क निर्माण की दूरी 12 किलोमीटर है जिसमें 3 किलोमीटर नग्न फॉरेस्ट भूमि है। एवं 9 किलोमीटर फॉरेस्ट लैंड है जिसे फॉरेस्ट विभाग के कार्य योजना में ली गई है उन्होंने बताया कि यह सड़क 4 मीटर चौड़ा निर्माण कराया जाएगा जिससे फॉरेस्ट विभाग के डीएफओ को कोई आपत्ति नहीं है।
इसलिए सर्वप्रथम एक सप्ताह के अंदर इस सड़क की निर्माण कार्य शुरू कराने का निर्देश दिया गया है। जब डीएम कौशल कुमार अधिकारियों के संग चटकरी गांव पहुंचे तो वहां के लोगों में सड़क निर्माण को लेकर काफी प्रसन्नता थी। हालांकि गांव वालों ने बातचीत के दौरान जिलाधिकारी से पेयजल की समस्या होने की बात कही। जिसके लिए जिलाधिकारी ने पीएचईडी के कार्यपालक अभियंता से दूरभाष पर पेयजल की समस्या से निजात दिलाते हुए पेयजल की व्यवस्था शीघ्र करने की निर्देश दिया। उन्होंने केंद्रीय विशेष सहायता योजना के अंतर्गत जल से संबंधित योजना देने की बात कही। जिससे वहां के ग्रामीण संतुष्ट में ग्रामीणों ने सड़क निर्माण में पूरा सहयोग करने का वचन दिया।निरीक्षण के दौरान रजौली थानाध्यक्ष सुजय विद्यार्थी अपने दल बल के साथ उपस्थित थे।

READ ALSO:-  पानी में स्टंट के दौरान युवक की हुई मौत, Tik Tok के लिए बना रहा था वीडियो

 

नवादा से अमन राज की रिपोर्ट।

Advertisements
Latest Hindi News से हमेशा अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक, ट्विटर पर फॉलो करें एवं Google News पर फॉलो करे .

Advertisements

Advertisements

About Patrakar Babu 218 Articles
पत्रकार बाबू डाॅट काॅम (www.patrakarbabu.com) यह नाम है उस कोशिश का जिसके जरिए खबरें आप तक अपने असली स्वरूप में पहुंचेगी। कोई सनसनी नहीं, न झूठ की चाशनी में लपेट कर और न हीं सच और झूठ की खटमिठी बनाकर हम खबरें आप तक परोसना चाहते हैं। हमारी कोशिश हीं यही है कि खबरिया न्यूज पोर्टल की भीड़ में हम एक और न्यूज पोर्टल की खानापूर्ति न करें बल्कि आमलोगों के सरोकारों, आमलोगों से जुड़ी खबरें और वो सच जिसे आप जानते चाहते हैं आप तक पहुंचाया जाए।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*